Friday , September 22 2017

स्वच्छता मुहिम में अवार्ड देगी सरकार

स्वच्छतादेहरादून : केंद्र सरकार की तर्ज पर राज्य सरकार ने भी स्वच्छता के लिए कार्य करने वाले लोगों, संस्थाओं व विभागों को सम्मानित करने का निर्णय लिया है। शहरी विकास एवं आवास मंत्री मदन कौशिक ने शुक्रवार को विभागीय समीक्षा के दौरान कहा कि राज्य में स्वच्छता पर फोकस करते हुए समय से पूर्व इस लक्ष्य को हासिल किया जाना है। स्वच्छता जागरूकता के लिए विशेष अभियान चलाया जाएगा। इस क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले व्यक्ति, संस्था व विभाग को पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जन्म दिवस पर 25 सितंबर को ‘स्वच्छता कार्यक्रम अवार्ड’ से सम्मानित किया जाएगा।

यूपी सरकार ने गोरखपुर में 30 बच्चों की मौत का किया खंडन

काबीना मंत्री कौशिक ने कहा कि स्वच्छता की मुहिम में ढिलाई बरतने वाले कार्मिकों को दंडित किया जाएगा। उन्होंने खुले में शौच को पूर्णतया प्रतिबंधित करने और इसके लिए जुर्माना जैसे कड़े प्रावधान लागू करने पर भी जोर दिया। स्थानीय निकायों की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि टैक्स वसूली, डोर-टू-डोर कलेक्शन, सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट जैसे लक्ष्यों को पूरा न करने वाले निकायों को राज्य वित्त आयोग की त्रैमासिक किस्त भुगतान के अतिरिक्त सभी धनराशि पर रोक दी जाएगी। बैठक में इज ऑफ डूइंग बिजनेस व ऑन लाइन टैक्स प्रणाली पर भी बल दिया गया। जानकारी दी गई कि जीएसटी लागू करने के लिए अभी तक 1768 जीएसटी मित्र का पंजीकरण किया गया है।इस अवसर पर स्थानीय निकायों के अगले वर्ष होने वाले चुनावों के मद्देनजर स्थानीय निकाय समिति का गठन करने के पश्चात परिसीमन के कार्य में तेजी लाने के निर्देश भी दिए गए।

4 दिन से शेयर मार्केट में हाहाकार, निवेशकों ने गंवाए 6.4 लाख करोड़ रुपए

इसके अलावा दीनदयाल अंत्योदय योजना के तहत स्वरोजगार, शहरी निराश्रित आश्रय योजना, कौशल विकास स्वरोजगार योजना पर विशेष ध्यान देने को कहा गया। बैठक में बिजली बचाने के उद्देश्य से एलईडी बल्ब का प्रयोग करने और इसमें स्थानीय उद्योगों को जोड़ने की जरूरत बताई गई। कहा गया कि यदि स्थानीय उद्योग इस क्षेत्र में योग्यता रखते हैं तो एलईडी बल्ब के लिए प्रदेश से बाहर जाने की जरूरत नहीं होगी। बैठक में शहरी विकास सचिव राधिका झा, अपर निदेशक नवनीत पांडे, अपर सचिव विनोद कुमार सुमन, अपर सचिव एडीबी श्रीधर बाबू अद्दांकी आदि मौजूद थे।