Wednesday , September 20 2017

सेवा निवृत्त शिक्षकों के सम्मान समारोह में नदारद रहे शिक्षा मंत्री

सेवा निवृत्त देहरादून: देहरादून जिले में कल सेवा निवृत्त शिक्षकों का विदाई समारोह था। जहां पर शिक्षको को सम्मानित किया गया लेकिन हैरानी की बात ये है कि इस समारोह में शिक्षा मंत्री को आमंत्रित ही नहीं किया गया। प्राथमिक शिक्षक संगठन ने शिक्षा मंत्री को न तो निमंत्रण भेजा गया और न ही निमंत्रण पत्र में उनके को कोई जगह दी गई, जिससे शिक्षा मंत्री अरविंद पाण्डेय और शिक्षक संगठनों के बीच नाराजगी चल रही है।

आपको बता दें कि निमंत्रण पत्र में जिन अतिथियों के नाम को जगह दी है, उनमें मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के अलावा कोई मुख्य अतिथि कार्यक्रम में नहीं पहुंचे। ड्रेस कोड पर उपजे मतभेद के बाद शिक्षक संगठन और शिक्षा मंत्री अरविंद पाण्डेय एक दूसरे से नाराज चल रहे हैं।

यह भी पढ़े-सरहद पर उत्तराखण्ड का एक और लाल शहीद, बेटियों ने दी चिता को आग

हाल ही में 8 अगस्त को जब मुख्यमंत्री ने शिक्षक संगठनों के ड्रेस कोड मामले पर बैठक बुलाई थी तो शिक्षा मंत्री उसमे शामिल नहीं हुए थे। कार्यक्रम के निमत्रंण पत्र में भाजपा विधायक गणेश जोशी और खजान दास का नाम भी शामिल था जो कि उस कार्यक्रम में नहीं पहुंचे थे।

 

अब ऐसे में सवाल ये उठता है कि जब विधायकों को खुश करने के लिए प्राथमिक शिक्षक संगठन ने निमंत्रण पत्र देने के साथ निमंत्रण पत्र में विधायकों का नाम शामिल किया, तो क्यों अपने विभाग के मुखिया अरविंद पाण्डेय को खुश करने के लिए निमंत्रण में नाम शामिल नहीं किया।

 यह भी पढ़े-कबड्डी लीग:रोमांचक मैच में दिल्ली ने थलाइवाज को हराया

निमंत्रण पत्र न भेजे जाने को लेकर प्रथामिक शिक्षक संगठन का कहना है कि शिक्षा मंत्री के  पीए से पूंछे जाने पर पता चला है कि इस समय शिक्षा मंत्री देहरादून से बाहर है। शिक्षा मंत्री के पीए का कहना है कि प्राथमिक शिक्षक संगठन ने उनसे किसी तरह के निमंत्रण को लेकर समय नहीं मांगा था।