Tuesday , July 23 2019

राज्यसभा चुनाव: अहमद पटेल बने कांग्रेस के ‘बाजीगर’, शाह-स्मृति की जोड़ी ने भी दिखाया कमाल

राज्यसभाअहमदाबाद।  गुजरात की तीन राज्यसभा सीटों में दो पर बीजेपी ने कब्जा जमा लिया है, हालांकि सुबह से ही चर्चा में रही तीसरी सीट को कांग्रेस के चाणक्य कहे जाने वाले अहमद पटेल ने अपने नाम करते हुए राज्यसभा में अपनी जगह बरकरार रखी। पटेल ने कांग्रेस से बागी होकर बीजेपी में शामिल हुए बलवंत सिंह को मात दी। पटेल को कुल 44 वोट मिले।

वहीं बीजेपी की ओर से अमित शाह और स्मृति ईरानी ने भी राज्यसभा में अपनी सीट पक्की की। राज्यसभा के लिए गुजरात की तीन सीटों पर हुए मतदान में अहमद पटेल के 44 वोटों के अलावा स्मृति ईरानी को 46, अमित शाह को 46 और बलवंत सिंह राजपूत को 38 वोट मिले।

कांग्रेस की प्रतिष्ठा का प्रश्न बनी अहमद पटेल की सीट क्रॉस वोटिंग की वजह से संशय में दिख रही थी लेकिन चुनाव आयोग ने वोटों की गिनती शुरू होने से पहले कांग्रेस की मांग को मानते हुए कांग्रेस विधायक भोला भाई और राघव जी भाई पटेल के वोट रद्द करने का आदेश दिया। कांग्रेस के इन दोनों विधायकों ने बीजेपी को वोट दिया था।

आपको बता दें कि आयोग से कांग्रेस से मांग की थी कि इन विधायकों ने सीक्रेसी का उल्लंघन करते हुए अपना वोट वहां मौजूद पोलिंग एजेंट को दिखाया था इसलिए इनके वोट रद्द किये जाएं। जिसके बाद बीजेपी ने कांग्रेस की इस याचिका को रद्द करने की मांग की थी लेकिन चुनाव आयोग ने वोटिंग के दौरान का विडियो देखने के बाद भोला भाई और राघवजी पटेल का वोट रद्द कर दिया।

यह भी पढ़ें: राम मंदिर के लिए शिया-सुन्नी में ठनी, सुलझने की जगह और उलझा मामला

चुनाव आयोग ने अपने आदेश में कहा, ‘विडियो देखने से साफ पता चलता है कि कांग्रेस के दोनों बागी विधायकों ने अपने वोट को गुप्त नहीं रखा और इसके साथ उन्होंने बने नियम का उल्लंघन किया।’ चुनाव आयोग ने देर रात रद्द किए गए वोटों को अलग करने के बाद वोटों की गिनती शुरू करने का आदेश दिया।

आखिरकार 7 घंटे की देरी के साथ वोटों की गिनती शुरू हुई और मतगणना में कांग्रेस विधायकों के वोट रद्द करने के बाद पटेल को जीतने के लिए कुल 174 वैध मतों में से 43.5 वोट चाहिए थे। पटेल ने 44 वोट हासिल कर राज्यसभा में अपनी सीट बरकरार रखी।