Sunday , April 21 2019

बॉलीवुड के बाद पॉलीवुड स्‍टार मचाएगा हॉलीवुड में धमाल

राहुल लखनपालचंडीगढ़| दीपिका पादुकोण, प्रियंका चोपड़ा, इरफान खान सहित कई बॉलीवुड सितारों को हमने हॉलीवुड का रुख करते हुए देखा है, लेकिन इस साल सितम्बर में हम पंजाब के एक आम परिवार में जन्मे युवा गायक राहुल लखनपाल को हॉलीवुड में अपने संगीत का जादू बिखेरते देखेंगे।

अगले माह रिलीज होने वाली हॉलीवुड फिल्म ‘द टाइगर हंटर’ में नजर आने वाला गीत ‘शिकागो लैंड’ को राहुल ने लिखा है, रचा है और गाया भी है।

यह भी पढ़ें:  मिस्टर परफेक्शनिस्ट की वजह से किंग खान के हाथ लगा सुनहरा मौका, किया शुक्रिया

राहुल ने इंटरव्‍यू में बताया कि, “मेरे गीत ‘शिकागो लैंड’ को 22 सितम्बर को रिलीज होने वाली फिल्म ‘द टाइगर हंटर’ के लिए चुना गया है। यह गीत फिल्म के विषय को दर्शाता है, जिसमें एक भारतीय लड़का 1970 में शिकागो में अपने जीवन के प्यार की तलाश कर रहा है। यह गाना प्रसिद्ध रॉक हॉल ऑफ फेम ‘शिकागो ब्लूज’ और बडी गाय और मूडी वार्ट्स जैसे कलाकारों से प्रभावित है।”

लुधियाना से 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित एक छोटे से कस्बे जगराओं में जन्मे राहुल ने 10 साल की उम्र से ही संगीत की शिक्षा लेना शुरू कर दिया था। उन्होंने पंजाबी लोग गीत और भारतीय शास्त्रीय तथा सूफी संगीत में शिक्षा हासिल की।

यह भी पढ़ें: बॉलीवुड के इन गानों ने मजबूत की भाई-बहन के रिश्‍ते की डोर

राहुल ने कहा कि उनके माता-पिता और शिक्षकों ने उन्हें हमेशा यहीं सीख दी कि वह अपनी पढ़ाई से ध्यान हटाए बिना अपने सपनों को पूरा करें। इस कारण उन्होंने अपने सपनों को उड़ान देने के साथ-साथ अपनी पढ़ाई भी पूरी की।

राहुल ने अमृतसर के गुरु नानक देव विश्वविद्यालय से वास्तुकला में स्नातक की और इसके बाद टेक्सास में साइंस डिग्री में मास्टरी की।

उन्होंने बताया, “मैं ‘ध्वनी’ बैंड में मुख्य गायक था और इस दौरान मेरी मुलाकात मेरे दोस्त और बाद में मेरे संगीत साझेदार बने विनीत बेलूर से हुई। अपने बैंड के साथ मैंने अमेरिका में कई विश्वविद्यालयों में प्रस्तुति दी। मुझे काफी प्रशंसा भी मिली। इसने मेरे आत्मविश्वास को और भी बढ़ाया।”

‘शिकागो लैंड’ के संगीतकार और लेखक राहुल ने अमेरिका के 2008 में आयोजित हुए संस्करण ‘सा रे गा मा पा’ में हिस्सा लिया था और वह शीर्ष पांच वर्ग में थे।

राहुल ने कहा कि सूफी रॉक, बॉलीवुड, बॉलीवुड रॉक और अरबन पंजाबी उनकी संगीत शैली है।

उन्होंने बताया, “मेरे पसंदीदा कलाकार नूसरत फतेह अली खान, कैलाश खेर, उस्ताद सलामत अली खान, मोहम्मद रफी, मेरे गुरु सुखदेव साहिल और गुलजार तथा बुल्ले शाह जैसे गायक हैं। मुझे सूफी रॉक संगीत से बेहद प्यार है।”

लॉस एंजेलिस में 2012 में अपनी एक प्रस्तुति के दौरान राहुल की मुलाकात हॉलीवुड निर्माता नाजिया नाज खान से हुई। उन्होंने ‘ओशियन्स 13’, ‘द क्यूरियस केस ऑफ बेंजामिन बटन’, ‘वर्ल्ड वॉर जेड’, ‘द रेवेनेंट’ और ‘मूनलाइट’ जैसी फिल्मों में काम किया है।

राहुल ने बताया, “नाजिया अपनी हॉलीवुड फिल्म ‘द टाइगर हंटर’ का प्रचार कर रही थीं, जब उन्होंने मेरी पहचान फिल्म की निदेशक लीना खान से कराई। लीना ने मुझे और मेरे दोस्त विनीत को अपनी प्रतिभा दुनिया को दिखाने का मौका दिया। मेरे लिए तो मेरे सपने के सच होने जैसा था। हमने साथ मिलकर तीन गाने तैयार किए। इसमें से एक का चयन किया गया।”

राहुल को बस अब इस फिल्म के रिलीज को होने का इंतजार है और इसके साथ ही उनका वो सपना भी सच हो जाएगा, जिसे 10 साल की उम्र से अपने दिल में बसाए उन्होंने इतना लंबा सफर तय किया।