Monday , October 23 2017

बिहार के पत्रकार हत्या मामले में चार संदिग्ध हिरासत में

बिहार पत्रकार हत्यापटना: बिहार पत्रकार हत्या मामले में पुलिस ने चार संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया है। सीवान में एक हिन्दी दैनिक के वरिष्ठ पत्रकार राजदेव रंजन की रेलवे स्टेशन के पास गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी।

 

शुक्रवार की शाम राजेदव अपने ऑफिस से वापस लौट रहे थे। रात आठ बजे के करीब टाउन थाना क्षेत्र के ओवरब्रिज के समीप अज्ञात अपराधियों ने उन्हें गोली मार दी। बताया जा रहा है कि एक गोली उनके सिर और दूसरी गर्दन में लगी। गंभीर रूप से जख्मी राजदेव रंजन को पुलिस अस्पताल ले गई, लेकिन रास्ते में भी उन्होंने दम तोड़ दिया।

बिहार पत्रकार हत्या से आक्रोश

पत्रकार राजदेव रंजन 24 वर्षों से पत्रकारिता कर रहे थे। रंजन इस इलाके के अपराधियों और दबंगों के खिलाफ लंबे समय से लिखते चले आ रहे थे। बिहार के पत्रकारों को इस हत्याकांड ने आक्रोशित कर दिया और विरोध प्रदर्शनों का दौर शुरू हो गया है।

सीवान के एसपी सौरभ कुमार साह ने बताया कि हिंदी दैनिक अखबार ‘हिंदुस्तान’ के पत्रकार राजदेव रंजन शाम करीब 7:45 बजे वह अपनी मोटरसाइकिल से सदर पुलिस थाना क्षेत्र के तहत आने वाले स्टेशन रोड स्थित फल बाजार के पास से गुजर रहे थे। उसी वक्त गोली मारकर हत्या कर दी गई। एसपी ने बताया कि 45 साल के रंजन ने अस्पताल ले जाते वक्त दम तोड़ दिया। उन्होंने कहा कि इस हत्या के पीछे का मकसद अभी पता नहीं चल सका है।

बिहार पत्रकार हत्या पर भाजपा नेता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि नीतीश कुमार वाराणसी घूम रहे हैं और उनके राज्य में चौथा स्तंभ ‘खतरे में है। यह महाजंगलराज है… उनकी हत्या के बारे में सुनकर दुखी हूं, राजदेव एक निडर पत्रकार थे।’