Friday , September 22 2017

डोकलाम पर बौखलाया चीन, जारी की भारत के पापों की लिस्ट, अब होगा फाइनल गेम!

भारत का मजाकबीजिंग। भारत और चीन के बीच हुए डोकलाम विवाद ने दोनों देशों के रिश्तों के मध्य एक दीवार खड़ी कर दी। भूटान-चीन-भारत की सीमा पर दोनों देशों की सेना अभी भी आमने-सामने है। हाल ही में खबर थी कि लद्दाख में चीन सेना ने घुसपैठ की थी और ये कोई पहला मामला नहीं जब चीनी सेना के द्वारा सीमा पार की गई हो। लेकिन फिर भी दोनों सेनाओं ने बातचीत कर विवाद सुलझाने की बात की है। हालांकि चीनी मीडिया डोकलाम विवाद के बाद से ही भारत पर लगातार तीख़े हमले बोल रहा हैं। ताज़ा मामले में चीन के एक टीवी ने भारत के सात पापों को गिनाते हुए देश का मजाक उड़ाया है।

सेना का हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त, चालक दल के सदस्यों की तलाश जारी

चीन की सिन्हुआ न्यूज एजेंसी के द्वारा एक वीडियो ट्वीटर पर जारी किया गया है जिसमें यह बताया गया है कि किस तरह डोकलाम में भारत गलत तरीके से चीन की सीमा में अंदर घुसा है।

इस वीडियो में एक महिला है जो कि अंग्रेजी में भारत के सात पापों को बता रही है। इसमें एक लड़का भी है जिसने नकली दाढ़ी और पगड़ी लगा रखी है, जिसे भारत के रूप में पेश किया गया है।

इस वीडियो में भारत को सीधे तौर पर एक बुरा पड़ोसी बताया है। यूं तो चीनी मीडिया हमेशा से ही भारत पर आरोप लगाता रहता है। लेकिन ये पहला मौका है जब इस तरह वीडियो शेयर करके भारत का मजाक बनाया गया हो।

अमेरिका ने दिखाया पाक को आईना, कहा- हिंदुओं की धार्मिक आजादी खतरे में

इस वीडियो में ये भारत के ये सात पापों को गिनाया है:-

  1. दोनों देशों के समझौते का उल्लंघन
  2. अतिक्रमण
  3. सही और गलत में उलझाना
  4. जानते हुए भी गलती को दोहराना
  5. पीड़ित पर ही आरोप लगाना
  6. अंतरराष्ट्रीय कानून तोड़ना
  7. छोटे पड़ोसी को धमकाना

वीडियो में कहा है कि भारत एक ऐसा पड़ोसी है जो बिना बताए आपके घर में सैनिक और बुलडोज़र लेकर घुस आया। उन्होंने भारत पर अंतरराष्ट्रीय नियमों को तोड़ने का भी आरोप लगाया।

देखें वीडियो:-

दरअसल, चीनी मीडिया पर वहां की सरकार का ही आधिकार रहता है। मीडिया को चीनी सरकार के खिलाफ कुछ भी बोलने आज़ादी नहीं है। सरकार जो भी कहती वही वहां की मीडिया को करना होता है।

बता दें, इसी साल 16 जून को भारतीय सैनिक डोकलाम इलाके में गश्त पर थी, तभी पता चला कि चीन यहां सड़क बना रहा है। भारतीय सेना ने चीन के सड़क निर्माण के कार्य को रोक दिया। इसी बात से चीन नाराज हो गया और लगातार प्रोपेगेंडा कर रहा है। उसका दावा है कि वह अपनी सीमा में सड़क बना रहा है, ऐसे में भारत को क्या ऐतराज है। हालांकि यह इलाका भूटान का है।