Thursday , September 21 2017

चीन की धमकियों का जवाब देने डोकलाम की तरफ बढ़ी भारतीय सेना !

चीननई दिल्ली। डोकलाम विवाद पर चीन के साथ पिछले दो महीने से चल रही रस्साकशी के बीच भारत ने सिक्किम, अरुणाचल से लगी चीन सीमा पर सैनिकों की तैनाती बढ़ा दी है। खबरों के मुताबिक सीमा पर तैनात सैनिकों को सावधान रहने को कहा गया है। डोकलाम पर चीन के आक्रामक रूख को देखते हुए स्थिति के गहन विश्लेषण के बाद यह फैसला लिया गया है। 1400 किलोमीटर लंबी चीन-भारत सीमा पर सिक्किम से लेकर अरुणाचल प्रदेश तक तैनात सैनिकों की संख्या बढ़ाने का निर्णय लिया गया है।

रक्षा विशेषज्ञों के मुताबिक अनुमानित रूप से 45 हजार जवानों ने वेदर एक्लीमेटाइजेशन प्रोसेस (इसके तहत जवानों को अलग-अलग तापमान में ट्रेनिंग कराया जाता है) को पूरा किया है। इसका मतलब जवानों को किसी भी स्थिति के लिए तैयार रहने के लिए होता है। लेकिन कोई जरूरी नहीं है सभी जवानों को सीमा पर तैनात ही किया जाए।

सैनिकों को 9 हजार फीट ऊंचाई पर तैनात किया गया और नौ दिनों तक एक्लीमेटाइजेशन की प्रक्रिया चली। हालांकि अधिकारियों ने कहा कि भारत-चीन-भूटान के त्रिकोण पर डोकलाम में तैनात सैनिकों की संख्या में कोई इजाफा नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें: यूपी सरकार ने गोरखपुर में 30 बच्चों की मौत का किया खंडन

भारत के 350 जवान डोकलाम में अपनी पोजिशन संभाले हुए हैं। गौरतलब है कि 16 जून को चीन की ओर से कराए जा रहे सड़क निर्माण के कार्य को भारतीय सैनिकों ने रोक दिया था। और तब से लगातार आठ हफ्ते से भारतीय सैनिक अपनी भूमिका निभा रहे हैं।