Tuesday , September 24 2019

चाणक्य नीति

जल अपच की दवा है. जल चैतन्य निर्माण करता है, यदि उसे भोजन पच जाने के बाद पीते है. पानी को भोजन के बाद तुरंत पीना विष पीने के समान है…

चाणक्य नीति