Tuesday , June 25 2019

एनपीए का समाधान कर सकते हैं ‘बैड बैंक’

एनपीए की समस्यानई दिल्ली| वित्त मंत्री अरुण जेटली ने शुक्रवार को कहा कि एक ‘बैड बैंक’ या एक प्रकार के एसेज रिकंस्ट्रकशन कंपनी की स्थापना कर बैंकों की गैर निष्पादित परिसंपत्तियों को बाजार कीमत पर खरीद कर एनपीए की समस्या का समाधान किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : अब भारत में बनेंगे आईफ़ोन, जल्द शुरू होगा निर्माण

जेटली ने बजट के बाद भारतीय उद्योग जगत के साथ बैठक में कहा, “यह ‘बैड बैंक’ भी एक संभावित समाधान है। हम इस बारे में बोर्ड में चर्चा करेंगे।”

यह भी पढ़ें : बजट का विधानसभा चुनावों पर कोई असर नहीं होगा : चिदंबरम

आर्थिक सर्वेक्षण 2016-17 में एनपीए की समस्या से निपटने के लिए ‘बैड बैंक’ को स्थापित करने की सिफारिश की गई है।