Wednesday , November 13 2019

अपने करियर की अंतिम रेस से पहले भावुक हुए बोल्ट, डोपिंग को बताया ‘खलनायक’

उसेन बोल्टकिंग्सटन। विश्व के दिग्गज धावक उसेन बोल्ट का कहना है कि डोपिंग करने वाले खिलाड़ी इसे रोक दें, नहीं तो एथलेटिक्स का खेल समाप्त हो जाएगा।  रिपोर्ट के अनुसार, लंदन में आयोजित होने वाली विश्व एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में बोल्ट अपने करियर की अंतिम रेस में दौड़ेंगे। आठ बार ओलम्पिक खेलों के विजेता बोल्ट विश्व खेल जगत के लिए आदर्श हैं। वह विश्व चैम्पियनशिप के बाद संन्यास ले लेंगे।

जमैका के 30 वर्षीय धावक इस प्रतियोगिता में 100मीटर और चार गुणा 100 मीटर रेस में दौड़ेंगे। इसका आगाज शुक्रवार से हो रहा है।

बोल्ट ने अपने एक बयान में कहा, “आशा है कि एथलीट इस चीज को देख पाएंगे कि आखिर खेल जगत में क्या हो रहा है और वह खेल को आगे ले जाने में किस प्रकार से मदद कर सकते हैं?”

मैक्लारेन की रिपोर्ट में रूस में डोपिंग कार्यक्रम के संचालन का खुलासा हुआ था। इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए बोल्ट ने कहा, “रूस के इस घोटाले के बाद मुझे नहीं लगता कि खेल जगत में इससे भी बुरा कुछ हो सकता है। डोपिंग हमेशा से बुरी चीज रही है। यह कभी भी सुखद नहीं रही, क्योंकि आप खेल जगत में अच्छे परिणाम हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं।”

बोल्ट ने कहा, “खिलाड़ियों में यह समझ होनी चाहिए कि अगर आपने कुछ गलत किया होगा, तो आप पकड़े जाएंगे। हालांकि, पिछले कुछ साल में डोपिंग को रोकने के लिए अच्छा काम किया जा रहा है अब यह चीजें साफ हो रही हैं। आने वाले समय में खेल जगत में और भी सुधार होगा।”