Friday , May 24 2019

अनोखी ‘परंपरा’ : ससुराल वाले ही तय करते हैं बहू की कीमत

जिस्म बेचनानई दिल्ली। किसी महिला के लिए अपना जिस्म बेचना आम बात नहीं होती है लेकिन आज भी कई ऐसी जगहें हैं जहां महिलाएं खुलेआम अपना जिस्म बेचती नज़र आती हैं। पर शायद आप ये नहीं जानते कि जिस्मफरोसी के धंधे में अधिकतर महिलाएं मजबूरी में आती हैं तो कुछ को ज़बरदस्ती ढकेल दिया जाता है। जी हां, आज हम आपको दिल्ली से सटे एक ऐसे ही इलाके के बारे में बताने जा रहे हैं जहां एक ऐसी कम्युनिटी रहती है जिसमें घर वाले ही महिलाओं को पति के अलावा दूसरों से सेक्स करने के लिए मजबूर किया जाता है।

राजधानी दिल्ली के धरमपुरा सहित कई इलाकों में शादी होने के बाद ससुराल वाले खुद अपनी बहु को सेक्स वर्क करने के लिए दबाव बनाते हैं. एक रिपोर्ट्स के मुताबिक, धरमपुरा सहित कई इलाकों में रहने वाली परना कम्युनिटी में यह अजीबोगरीब ‘परंपरा’ कई जेनरेशन से चली आ रही है।

पालतू अजगर के साथ बेड शेयर करती थी महिला, डॉक्टर के पास पहुंची तो हुआ चौंकाने वाला खुलासा

परना कम्युनिटी पहले खानाबदोश की तरह जिंदगी जीती थी। रिसर्च साइट पैसिफिक स्टैंडर्ड (www.psmag.com) ने एक बार इस कम्युनिटी पर रिपोर्ट पब्लिश की थी। इसके मुताबिक, पति अपनी पत्नियों से सेक्स वर्क करवाते हैं और पैसे अपने पास रखते हैं।

इस रिपोर्ट में सेक्स ट्रैफिकिंग के खिलाफ काम करने वाली गैर सरकारी संस्था ‘अपने आप वुमन वर्ल्ड वाइड’ की डायरेक्टर अभिलाषा कुमारी कहती हैं- “अगर दिल्ली में रेप होता है, हर कोई ‘एक्साइटेड’ हो जाता है। लेकिन इन महिलाओं के साथ हर रोज रेप होता है और इनकी सुध लेने वाला कोई नहीं”।

आपको ये जानकार हैरानी होगी कि इस कम्युनिटी में कुछ ऐसी भी महिलाएं हैं जिन्होंने और कोई काम नहीं मिलने की स्थिति में खुद ही सेक्स वर्कर बनने का फैसला किया।

चीन के बड़े सच का वीडियो वायरल, इसे देख आप समझ जाएंगे कि वो भारत से क्यों नहीं जीत सकता

एक महिला ने बताया कि यह काम करने के बाद उनकी जिंदगी बदली है और वह अपने बच्चों को पढ़ाना भी शुरू कर दिया है। कुछ संस्थाएं भी इन महिलाओं के हकों के लिए आवाज उठा रही हैं और कुछ महिलाओं को मदद भी पहुंचा रही हैं।

पैसिफिक स्टैंडर्ड की रिपोर्ट में एक महिला रानी की कहानी शामिल की गई है। परना कम्युनिटी की रानी हर दिन सुबह 2 बजे घर से प्रॉस्टीट्यूशन के लिए रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड के पास निकलती है। सुबह 7 बजे वापस आती है और फिर घर का सारा काम उसे ही करना पड़ता है। 17 साल की उम्र में उसकी शादी हुई थी। पति की वह दूसरी पत्नी बनी थी। शादी के दो साल बाद से उसे प्रॉस्टीट्यूट बनना पड़ा। रानी का कहना है कि “मैं जानती थी ये होगा। यह बहुत सामान्य बात है। मैं फैमिली चलाने के लिए यह करती हूं”।