Friday , November 24 2017

अनुपमा गुलाटी हत्याकांड में अंतिम बहस आज, लाश के किए थे 70 टुकड़े

अनुपमा गुलाटी हत्याकांडदेहरादून: दून के चर्चित अनुपमा गुलाटी हत्याकांड में अदालत में फाइनल बहस की तारीख 18  अगस्त मुकर्रर की है। अपर जिला न्यायाधीश पंचम विनोद कुमार की अदालत में मामले पर आज बहस होगी। अदालती कार्रवाई पूरी हो गई तो इस मामले पर फैसला सामने आने की संभावना है।

दिसंबर 2010 में हुए इस जघन्य हत्याकांड में दिल्ली निवासी सॉफ्टवेयर इंजीनियर राजेश गुलाटी पर अपनी पत्नी अनुपमा की हत्या कर शव के कई टुकड़े करने और उन्हें दो माह तक डीप फ्रीजर में छुपाए रखने का आरोप है। वह यहां कैंट क्षेत्र के प्रकाशनगर में अनुपमा व दो बच्चों सिद्धार्थ और सोनाक्षी के साथ रहता था।

54 आइएएस अफसरों को कारण बताओ नोटिस जारी

आरोप है कि उसने 17 अक्टूबर 2010 को अनुपमा की गला दबा कर हत्या की और फिर स्टोन कटर व आरी से शव के टुकड़े कर डीप फ्रीजर में छिपाकर रखे। आरोपी ने कुछ टुकड़े मसूरी रोड के जंगल में फेंके थे, जिन्हें पुलिस ने बरामद किया था। जंगल में मिले टुकड़ों का डीप फ्रीजर में मिले टुकड़ों व अनुपमा के माता-पिता से डीएनए परीक्षण कराया गया, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

सरहद पर उत्तराखण्ड का एक और लाल शहीद, बेटियों ने दी चिता को आग

पुलिस ने आरी, डीप फ्रीजर और स्टोन कटर से आरोपी के फिंगर प्रिंट भी फोरेंसिक जांच में हासिल किए थे। हत्यारोपी तभी से जेल में है। पुलिस ने 10 मार्च 2011 को आरोपी के विरुद्ध चार्जशीट दाखिल की थी।